अपराधउत्तराखंडएक्सक्यूसिवदेशदेहरादूनपर्यटनमौसमराज्यस्वास्थ्य और शिक्षा

Dehradun Airport पर वाइल्ड लाइफ करेगा पक्षियों और वन्य जीवों की निगरानी- Airport पर लगाए जा रहे हैं कैमरे

Listen to this article

वाइल्ड लाइफ अगले छह माह तक रनवे पर और रनवे के ऊपर करेगा निगरानी

Dehradun. देहरादून एयरपोर्ट पर बढती बर्ड हिट की घटनाओं के कारण एयरपोर्ट प्रशासन हवाई पैसेंजरों की सुरक्षा को लेकर खासा चिंतित है।

यही कारण है कि बर्ड हिट की घटनाएं रोकने को लेकर एयरपोर्ट पर तमाम तरह के इंतजाम किए जा रहे हैं। प्लेन की लैंडिंग और टेक ऑफ के समय रनवे पर विभिन्न तरह के उपकरणों से पटाखों की आवाजें निकाली जाती हैं।

और एयरपोर्ट पर इस तरह की चमकीली टेप भी लगाई गई है। जिससे पक्षियों की आंखे चौंधिया जाएं। लेकिन इसके बावजूद बर्ड हिट की घटनाएं आए दिन होती रहती हैं। जिससे लैंडिंग या टेक ऑफ के समय पक्षी विमान से टकरा जाते हैं।

इसलिए अब एयरपोर्ट प्रशासन द्वारा वाइल्ड लाइफ वालों को एयरपोर्ट पर दिन और रात में पक्षियों और दूसरे वन्य जीवों की निगरानी को पांच लाख रूपए जमा करवाए गए हैं।

 

जिससे वाइल्ड लाइफ के लोग एयरपोर्ट पर कैमरे लगाने जा रहे हैं। इन कैमरों को रनवे के किनारे बांस के खंबों पर लगाया जाएगा।

उसके बाद इन कैमरों की मदद से दिन और रात में अगले छह महीने तक एयरपोर्ट पर पक्षियों और वन्य जीवों की निगरानी की जाएगी। जिसके बाद इस रिपोर्ट को एयरपोर्ट प्रशासन को सौंपा जाएगा। और फिर एयरपोर्ट प्रशासन इस रिपोर्ट के आधार पर बर्ड हिट या रनवे पर वन्य जीवों की आवाजाही रोकने के उपाए करेगा।

बता दें कि देहरादून एयरपोर्ट दो तरफ से थानों वन रेंज और बडकोट वन रेंज के घने जंगलों से घिरा हुआ है। और ये दोनों वन रेंज राजाजी पार्क से जुड़ी हुई हैं।

 

यही कारण है कि पूर्व में एयरपोर्ट के अंदर हाथी से लेकर गुलदार, सियार, भेडिया और दूसरे वन्य जीव घुस चुके हैं। जिससे एयरपोर्ट के रनवे पर वन्य जीवों और रनवे के ऊपर बर्ड हिट से विमानों को काफी खतरा पैदा हो गया है।

उधर एयरपोर्ट निदेशक प्रभाकर मिश्रा ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा कि बर्ड हिट की घटनाओं को देखते हुए एयरपोर्ट पर वाइल्ड लाइफ वालों को कैमरे लगाने को कहा है। जिससे आगामी छह माह तक वन्य जीवों और पक्षियों की दिन और रात निगरानी की जाएगी।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!